Breaking
Ad
Ad
Ad
Author

admin

Browsing

एयर इंडिया के विमानों पर नजर आए महात्मा गांधी, लगाया गया खास लोगो

Mahatma Gandhi Logo on Air India Planes: सार्वजनिक विमानन कंपनी एयर इंडिया की ओर से महात्मा गांधी के खास लोगो को विमानों पर लगाया गया है। इस साल गांधी जी की 150वीं जयंती है।

Mahatma Gandhi on Air India Planes

एयर इंडिया के विमानों पर महात्मा गांधी  |  तस्वीर साभार: IANS

नई दिल्ली: एयर इंडिया ने इस साल महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर अपने विमानों में उनका लोगो स्थापित किया है। फिलहाल केवल दो विमानों पर राष्ट्रपिता के लोगो को प्रिंट किया गया है, जो कि विमान के बायीं तरफ ढांचे पर लगाए गए हैं, जबकि बेड़े के बाकी 163 विमानों पर भी लगाए जाएंगे।

एयर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, ‘महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में एयर इंडिया के एयरबस ए319 और ए320 विमानों पर पिछले हफ्ते ये लोगो लगाए गए हैं। उसके बाद से ये दोनों विमान घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय मार्गो पर उड़ान भर रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘एयर इंडिया के सभी 163 विमानों पर यह लोगो लगाने की योजना बनाई गई है। एलायंस एयर और एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमानों पर भी अगले तीन महीनों में यह लोगो प्रिंट कर दिया जाएगा। एक विमान पर लोगों को लगाने में करीब 5 घंटों का वक्त लगता है। उसके बाद वह विमान वापस सेवा में लौट आता है।’

उन्होंने कहा, ‘हम बेंगलुरू में फरवरी में होनेवाले आगामी एयर इंडिया शो में अपने एक एयरबस विमान पर लोगो पर से परदा हटाएंगे।’ फिलहाल, एयर इंडिया के मुख्य ब्रांड के 125 विमानों पर ये लोगो लगाए जा रहे हैं। वहीं, एयर इंडिया समूह की सहयोगी कंपनी एयर इंडिया एक्सप्रेस के 23 विमानों और एलाएंस एयर के 15 विमानों पर भी ये लोगों लगाए जाएंगे।

एयरलाइन गांधी जी के पसंदीदा भजनों को भी उड़ानों के दौरान बजाएगा, इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों में महात्मा गांधी पर आधारित लघु वीडियो भी दिखाए जाएंगे। सरकार ने इसके अलावा गांधी जी की तस्वीरें ट्रेनों, मेट्रो रेलों और राज्य की रोडवेज बसों में भी लगाने की योजना बनाई है।

तीसरा वनडे / भारत ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराया, सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त बनाई; स्कोरकार्ड देखें

विराट कोहली ने 49वां अर्धशतक लगाया।विराट 

 

 

खेल डेस्क. माउंट माउनगानुई में खेले गए तीसरे वनडे में भारत ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने पांच वनडे की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली। टीम इंडिया न्यूजीलैंड में 10 साल बाद वनडे सीरीज जीती है। इससे पहले भारत ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2009 में पांच वनडे की सीरीज 3-1 से जीती थी। इस मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। उसकी पूरी टीम 49 ओवर में 243 रन पर ऑलआउट हो गई। उसकी ओर से रॉस टेलर ने सबसे ज्यादा 93 रन बनाए। भारत के लिए मोहम्मद शमी ने 3, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने 2-2 विकेट लिए।

 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने 43 ओवर में 3 विकेट पर 245 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया। रोहित शर्मा ने 62 और कप्तान विराट कोहली ने 60 रन की पारी खेली। दिनेश कार्तिक 38 और अंबाती रायडू 40 रन बनाकर नाबाद रहे।

 

दोनों टीमें इस प्रकार हैं
भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अंबाती रायडू, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल।

न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, कॉलिन मुनरो, रॉस टेलर, टॉम लाथम (विकेटकीपर), हेनरी निकोलस, मिशेल सैंटनर, डग ब्रेसवेल, ईश सोढ़ी, लॉकी फर्गुसन, ट्रेंट बोल्ट।

Mood of the Nation poll: Who can fill Narendra Modi’s place as PM from the BJP or the Sangh Parivar?

According to voters, who in the BJP or the Sangh Parivar can be a prime ministerial alternative to Narendra Modi? Here are the results of the January 2019 India Today Mood of the Nation survey.

MOTN poll: Who can fill Narendra Modi's place as PM from the BJP or the Sangh Parivar?

Prime Minister Narendra Modi and BJP president Amit Shah at the concluding session of the national executive committee meeting of the party. (Photo: Pankaj Nangia/Mail Today)

As many as 22 per cent of respondents in the January 2019 India Today Mood of the Nation (MOTN) survey think Amit Shah is the person in the BJP or the Sangh Parivar who can be a prime ministerial alternative to Narendra Modi.

Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath, Union Minister Rajnath Singh and Union Minister Arun Jaitley are next in the list, having been picked by 16, 13 and 12 per cent of respondents, respectively.

That a majority of people think that Amit Shah is the best candidate for the prime ministerhip after Narendra Modi is understandable because of strong factors backing Shah. For one, in public perception Shah is like the eyes and ears of Narendra Modi himself when it comes to taking important decisions affecting the government and the party.

Illustration: India Today magazine

No major decision of PM Modi concerning the government is taken without consulting Amit Shah, who understands Modi’s mind in governance and politics like no one else.

Amit Shah also plays a role in policy-making, and his inputs have been crucial in the framing of schemes like Ayushman Bharat — which has emerged as a flagship scheme of the Modi government in the light of the next Lok Sabha polls, because it seeks to give health insurance cover to around 50 crore people.

A majority of BJP men believe that few past presidents have worked as hard for the party as Shah.

The figures speak for themselves. He had travelled seven lakh kilometres since he became president in 2014 at the rate of 550 kms a day. In the process he has visited 450 of the total 700-odd districts in the country, visiting each state at least three times.

Under his leadership the number of party’s district headquarters having their own office or at least land, has risen from 160 to 400.

But more than that, the perception that Amit Shah is the best choice has emerged because of Shah’s emergence as a great orator after becoming the party president.

The normally reticent Shah was a good speaker but never a fiery orator with an ability to move the people with his words and style.

After all Narendra Modi’s aura as a great leader is also embedded in his aggressive and convincing oratory. In the public’s eye Shah has proven his credentials by leading the party to victory in over a dozen state elections and in another four in alliance with other parties.

It appears Amit Shah will continue to be the strongest contender for the prime ministership after Modi for at least some time to come.

कुंभ में डुबकी लगाकर कांग्रेस में अपनी सियासी पारी की शुरुआत करेंगी प्रियंका गांधी

कुंभ में डुबकी लगाकर कांग्रेस में अपनी सियासी पारी की शुरुआत करेंगी प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी वाड्रा चार फरवरी को कांग्रेस अध्यक्ष अपने भाई राहुल गांधी के साथ प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेला में संगम में डुबकी लगाएंगी।

लखनऊ, जेएनएन। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खुद को जनेऊधारी हिंदू बताने के बाद अब उनकी बहन प्रियंका गांधी भी सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर हैं। सक्रिय राजनीति में उतरने के बाद वह मौनी अमावस्या (चार फरवरी) या पांच फरवरी को कुंभ में स्नान करने के बाद पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव का पद भार ग्रहण करेंगी। उनको पूर्वी उत्तर प्रदेश का चार्ज दिया गया है। अब लखनऊ में कांग्रेस के दफ्तर में उनके आगमन की तैयारी को भव्य बनाने का काम अंतिम दौर में है।

प्रियंका गांधी वाड्रा चार फरवरी को कांग्रेस अध्यक्ष अपने भाई राहुल गांधी के साथ प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेला में संगम में डुबकी लगाएंगी। इसके बाद वह अपने राजनीतिक करियर की औपचारिक शुरुआत करेंगी। चार फरवरी को कुंभ का दूसरा शाही स्नान है। इसी दिन मौनी अमावस्या भी है। इसके बाद वह अपने इस राजनीतिक करियर की औपचारिक शुरुआत करेंगी। इसके बाद प्रियंका गांधी लखनऊ में राहुल के साथ एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेंगी। अगर किसी कारणवश राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा चार फरवरी को संगम में स्नान नहीं कर पाते हैं तो वह दस फरवरी को पवित्र डुबकी लगाएंगे। 10 फरवरी का मुहुर्त भी खास है। इस दिन बसंत पंचमी है और तीसरा शाही स्नान है। माना जा रहा है कि यह शायद पहली बार है जब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी- दोनों संगम में स्नान करेंगे।

प्रियंका गांधी की इस योजना के कई राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। इसे भाजपा के दक्षिणपंथी विचारधारा का कांग्रेस को जवाब बताया जा रहा है। 2017 में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान कई मंदिरों में पूजा अर्चना की थी। यह कांग्रेस की सॉफ्ट हिंदुत्व की नीति के तहत किया गया था। राहुल गांधी के इस कदम की भाजपा ने आलोचना की थी और कहा था कि राहुल को मंदिर तभी याद आते हैं जब चुनाव आता है।

राहुल गांधी का भाजपा पर मंदिर को लेकर हमला कर्नाटक चुनाव के अलावा हाल ही में हुए राजस्थान, एमपी व छत्तीसगढ़ में भी जारी रहा था। इसके बीच में भाजपा की सभी आलोचनाओं का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि वह भाजपा के लोगों से बेहतर हिन्दू धर्म को समझते हैं। राजस्थान विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने खुद को जनेउधारी हिंदू बताया था। राजस्थान के एक मंदिर में पूजा करते हुए राहुल ने अपना गोत्र दत्तात्रेय और ब्राह्मण बताया था।

इससे पहले वर्ष 2001 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कुंभ मेले में पहुंची थीं और स्नान किया था। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने एक बड़ी राजनीतिक चाल चलते हुए प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का महासचिव नियुक्त कर दिया है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में लोकसभा की काफी सीट हैं। इस क्षेत्र में वाराणसी, गोरखपुर, प्रयागराज, चंदौली व गाजीपुर जैसे भाजपा के मजबूत गढ़ हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में इनमें से ज्यादातर सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी।

IND vs NZ 2nd ODI: न्‍यूजीलैंड के सामने विराट कोहली ब्रिगेड के ‘विजय रथ’ को रोकने की चुनौती

नेपियर के पहले वनडे मैच में मेजबान न्‍यूजीलैंड को बुरी तरह हराने वाली टीम इंडिया (India vs New Zealand) शनिवार को दूसरे वनडे में बुलंद हौसलों के साथ मैदान में उतरेगी.

IND vs NZ 2nd ODI: न्‍यूजीलैंड के सामने विराट कोहली ब्रिगेड के 'विजय रथ' को रोकने की चुनौती

India vs New Zealand: टीम इंडिया पांच वनडे मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे है

माउंट माउंगानुइ (न्यूजीलैंड): नेपियर के पहले वनडे मैच में मेजबान न्‍यूजीलैंड को बुरी तरह हराने वाली टीम इंडिया (India vs New Zealand) शनिवार को दूसरे वनडे में बुलंद हौसलों के साथ मैदान में उतरेगी. भारतीय टीम (Team India) जहां दूसरे वनडे (2nd ODI) जीतकर अपनी बढ़त को दोगुना करना चाहेगी, वहीं न्यूजीलैंड (New Zealand Team) की कोशिश वापसी की होगी. हालांकि पहले वनडे में भारत के जिस एकतरफा अंदाज में जीत हासिल की, उसे देखते हुए न्‍यूजीलैंड के लिए वापसी आसान नहीं रहने वाली. मेजबान टीम पहले वनडे में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की फिरकी का सामना नहीं कर सकी जबकि तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी उसकी शुरुआत बिगाड़ दी. भारत ने वर्ल्‍डकप-2019 से पहले अभी बल्लेबाजी का मध्यक्रम तय नहीं किया है लेकिन एक मैच के बाद प्‍लेइंग XI में बदलाव की उम्मीद कम ही है. हरफनमौला हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) निलंबन हटने के बाद न्यूजीलैंड रवाना हो चुके हैं और तीसरे मैच में टीम के लिए उपलब्‍ध हो सकते हैं. मैच भारतीय समयानुसार सुबह 7:30 बजे से प्रारंभ होगा.

View image on Twitter

टीम इंडिया के लिहाज से राहत की बात ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का फॉर्म में लौटना रहा. वे ऑस्ट्रेलिया में वनडे में उतने कामयाब नहीं रहे थे. धवन ने पहले मैच में नाबाद 75 रन की पारी खेली. कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli)  ने आठ विकेट से मिली जीत के बाद कहा था,‘धवन की यह पारी काफी अहम थी.हमने इस पर बात की थी कि उसके लिये फिनिशर की जिम्मेदारी निभाना अहम है. यदि वह ऐसा कर पाता है तो टीम के लिये इससे बेहतर क्या होगा.’कोहली को 28 जनवरी को होने वाले तीसरे वनडे के बाद ब्रेक दिया जायेगा जिससे अंतिम एकादश में बदलाव हो सकते हैं. इस स्थिति में युवा बल्‍लेबाज शुभमन गिल को मौका दिया जा सकता है. न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ पिछली घरेलू सीरीज 4-0 से जीती थी लेकिन इस श्रृंखला में उसने अपने खेल में सुधार नहीं किया तो नतीजा उल्टा हो सकता है. तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने कहा,‘हम पहले मैच में खेल के हर विभाग में कमजोर साबित हुए. बल्लेबाजों को अपने प्रदर्शन में सुधार करके अच्छा स्कोर बनाना होगा.’

National Voters’ Day 2019: Why is voting important for democratic countries?

The 9th National Voters’ Day will be celebrated in over six lakh locations in India, today.

Voters' Day is celebrated to mark the foundation day of Election Commission of india, etablished in 1950.

Voters’ Day is celebrated to mark the foundation day of Election Commission of india, etablished in 1950.

This year, India is celebrating its 9th National Voters Day on January 25, 2019. The voters’ day celebration was initiated in 2011 by the then President of India, Pratibha Devi Patil, on the 61st foundation day of Election Commission of India.

Established in 1950, the Election Commission of India is an organisation aims to increase the participation of number of voters and to encourage the newly eligible voters.

Ahead of Republic Day, 2 Jaish-e-Mohammad Terrorists Held for Planning Terror Strikes in Delhi

The arrest was made after police got a tip-off that a JeM terrorist, the mastermind behind a series of grenade attacks in Srinagar recently, was planning similar terror strikes in heavy footfall areas in Delhi during Republic Day celebrations.

 

Ahead of Republic Day, 2 Jaish-e-Mohammad Terrorists Held for Planning Terror Strikes in Delhi
An Indian paramilitary contingent prepares to march in front of India Gate during the Republic Day parade rehearsals at Rajpath in New Delhi. (Image: AP)

New Delhi: A man alleged to be a member of the Jaish-e-Mohammad (JeM) has been arrested on charges of planning to carry out terror strikes in the national capital during Republic Day. An elaborate security arrangement has been put in place in Delhi in view of the celebrations on Saturday.

Abdul Latif Ganai, alias Umair alias Dilawar, was arrested by Delhi Police’s Special Cell late night on January 20, Delhi Police officials said Thursday.

The arrest was made after police got a tip-off that a JeM terrorist, the mastermind behind a series of grenade attacks in Srinagar recently, was planning similar terror strikes in heavy footfall areas in Delhi during Republic Day celebrations, an official said.

Dilawar was arrested with incriminating material during the night of January 20-21, he said. A team rushed to Jammu and Kashmir and recovered two IED/grenades. It also arrested another terrorist, Hilal, from Bandipora who had carried out recce of target areas in Delhi.

Information about the module was shared with Srinagar Police, which thereafter arrested terrorists involved in grenade attacks in Jammu and Kashmir.

Meanwhile, traffic restrictions will be place in Delhi for smooth conduct of the Republic Day parade between Vijay Chowk and Red Fort Grounds.

Metro services will be available for commuters at all stations on Republic Day, but there will be no boarding and de-boarding at Central Secretariat and Udyog Bhawan stations from 5 am till 12 pm, they said.

The parade will start at 9.50 am from Vijay Chowk and pass through Rajpath, Tilak Marg, Bahadur Shah Zafar (BSZ) Marg, Netaji Subhash Marg and proceed for the Red Fort. A function will also be held at India Gate at 09.00 am, the traffic police said.

In order to facilitate smooth passage of the parade, movement of vehicles on certain roads leading to the parade route will be restricted, they said.

According to a traffic advisory, no vehicle will be allowed on Rajpath, from Vijay Chowk to India Gate, from 6 pm on January 25 till the parade is over.

No cross traffic will be allowed on Rajpath from 11.00 pm on January 25 at Rafi Marg, Janpath, Man Singh Road till the parade is over and ‘C’-Hexagon-India Gate will be closed for vehicular movement from 02.00 am on January 26 till the parade crosses Tilak Marg, it said.

On Republic Day, no vehicular movement will be allowed on Tilak Marg, BSZ Marg and Subhash Marg in both directions from 10 am onwards, Joint Commissioner of Police (Traffic) Alok Kumar said.

The Delhi Police has advised commuters to plan their journey accordingly in advance and avoid the parade route from 0200 hours to 1230 hours for their convenience.

Kumar said though there will be no restriction for people from North Delhi going towards New Delhi Railway Station or Old Delhi Railway Station, yet it is advised that they plan their journey in advance and take sufficient extra time to reach their destination to avoid any possible delay.

Flying of sub-conventional aerial platforms like para- gliders, para motors, hang gliders, UAVs, UASs, microlight aircrafts, remotely piloted aircrafts, hot air balloons, small size powered aircrafts, quadcopters or para jumping from aircraft are prohibited over the jurisdiction of National Capital Territory of Delhi from January 9 to February 9, the advisory said.

सेल्स रिपोर्ट 2018 / दिसंबर में किसी भी कंपनी की कार बिक्री 5% नहीं बढ़ सकी

december sales report of india automotive industry year 2018
  • त्योहारों के दौरान नवंबर में भी यात्री वाहनों की बिक्री 3.4% घटी थी
  • मारुति सुजुकी के निर्यात में 36.4% की गिरावट आई है

ऑटो डेस्क. तमाम ऑफर्स के बावजूद 2018 का आखिरी महीना ऑटोमोबाइल कंपनियों के लिए सुस्त रहा। यात्री वाहन बनाने वाली किसी भी कंपनी की बिक्री घरेलू बाजार में 5% भी नहीं बढ़ सकी। हुंडई ने सबसे ज्यादा 4.6% ग्रोथ दर्ज की है। देश की सबसे बड़ी पैसेंजर व्हीकल कंपनी मारुति सुजुकी ने दिसंबर में 1.21 लाख वाहन बेचे। यह दिसंबर 2017 से सिर्फ 1.8% ज्यादा है। महिंद्रा एंड महिंद्रा की बिक्री तो घट गई है।

 

sales report december 2018

 

ऑटोमोबाइल कंपनियों के संगठन सियाम के अनुसार त्योहारों के बावजूद यात्री वाहनों की बिक्री अक्टूबर में सिर्फ 1.55% बढ़ी थी। नवंबर में इसमें 3.43% गिरावट आई थी। जनवरी से सभी कार कंपनियों ने दाम बढ़ाने की घोषणा पहले ही कर रखी है। मारुति की छोटी कारें, अल्टो और वैगन-आर की बिक्री घरेलू बाजार में 14% घट गई। कॉम्पैक्ट सेगमेंट में स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर में 3.8% गिरावट आई। हालांकि सियाज की बिक्री लगभग दोगुनी हो गई। इसमें 98.7% ग्रोथ है।

 

sales report december 2018

 

यूटिलिटी सेगमेंट में विटारा ब्रेजा, एस-क्रॉस और अर्टिगा में 4.9% ग्रोथ दर्ज हुई है। सभी यात्री वाहनों की बिक्री सिर्फ 1% बढ़ी है। मारुति का निर्यात 36.4% घट गया है। यह 10,780 की तुलना में 6,859 रह गया। घरेलू बाजार और निर्यात मिलाकर कुल बिक्री में 1.3% गिरावट आई है।

 

होंडा कार्स की घरेलू बिक्री 4% बढ़ी है। कंपनी के सीनियर वीपी राजेश गोयल ने कहा, दिसंबर में भी बाजार चुनौतीपूर्ण बना रहा। लेकिन ईयर-एंड ऑफर के चलते हमारे कुछ मॉडल ने अच्छी ग्रोथ दर्ज की। सिर्फ एक फीसदी ग्रोथ दर्ज करने वाले टाटा मोटर्स के पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट के प्रेसिडेंट मयंक पारीख ने कहा कि दिसंबर पूरी ऑटो इंडस्ट्री के लिए सुस्त रहा। महिंद्रा के प्रेसिटेंड राजन वढेरा के अनुसार इसकी वजह नकदी की किल्लत और खराब सेंटिमेंट है। उन्होंने मार्च तिमाही में ग्रामीण इलाकों से मांग निकलने की उम्मीद जताई। फरवरी में लांच होने वाले एक्सयूवी-300 से भी कंपनी को काफी उम्मीदें हैं।

 

sales report december 2018

 

ट्रैक्टर: महिंद्रा की बिक्री 6% घटी, एस्कॉर्ट्स की 27% बढ़ी

दिसंबर में मंहिंद्रा एंड महिंद्रा के ट्रैक्टरों की बिक्री 6% घटकर 17,404 रही है। दिसंबर 2107 में कंपनी ने 18,488 ट्रैक्टर बेचे थे। दूसरी तरफ एस्कॉर्ट्स के ट्रैक्टरों की बिक्री में 27.5% की बढ़ोतरी देखने को मिली। पिछले महीने कंपनी ने 4,598 ट्रैक्टर बेचे। दिसंबर 2017 में कंपनी ने 3,606 ट्रैक्टर बेचे थे। दोपहिया वाहनों में दिसंबर के दौरान रॉयल एनफील्ड मोटर साइकिल की बिक्री 13% घटकर 58,278 रही। आयशर मोटर्स के टू-व्हीलर डिवीजन ने दिसंबर 2017 में 66,968 रॉयल एनफील्ड बेची थीं। दिसंबर में कंपनी की अंतराष्ट्रीय बिक्री 41% बढ़ी है।

 

sales report december 2018

 

हुंडई में सबसे ज्यादा 4.6% ग्रोथ 

 

कंपनी बिक्री संख्या बढ़ा/घटा
मारुति 1,21,479 1.8%
हुंडई 42,093 4.6%
होंडा 13,139 4%
टाटा 14,260 1%
महिंद्रा 15,091 3%

 

sales report december 2018

टाटा मोटर्स / अप्रैल 2020 से नैनो बंद हो सकती है, 10 साल पहले लॉन्च हुई थी लखटकिया कार

2008 में ऑटो एक्सपो में पहली बार नैनो कार को डिस्प्ले किया गया था।
      2008 में ऑटो एक्सपो में पहली बार नैनो कार को डिस्प्ले किया गया था।
  • 2009 में लॉन्च हुई थी नैनो, अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला इसलिए 5 साल में उत्पादन 90% घटा
  • अप्रैल 2020 से बीएस-6 प्रदूषण मानक लागू होंगे, नैनो को अपग्रेड नहीं करेगी कंपनी

हैदराबाद. टाटा मोटर्स अप्रैल 2020 से नैनो कार का उत्पादन और बिक्री बंद कर सकती है। रतन टाटा की इस ड्रीम कार को बीएस-6 के हिसाब अपग्रेड करने की कंपनी की कोई योजना नहीं है। टाटा मोटर्स के प्रेसिडेंट (यात्री वाहन बिजनेस यूनिट) मयंक पारीक ने कहा कि जनवरी से नए सुरक्षा नियम लागू हो रहे हैं। अप्रैल में कुछ और नियम आएंगे। इसके अलावा अप्रैल 2020 से बीएस-6 प्रदूषण मानक भी लागू होंगे। सभी प्रोडक्ट को इनके हिसाब से अपग्रेड नहीं किया जा सकता है।

सभी वाहन बीएस-6 के हिसाब से अपग्रेड नहीं किए जाएंगे

  1. टाटा मोटर्स के प्रेसिडेंट मयंक पारीक ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 1 अप्रैल, 2020 से उन्हीं वाहनों का रजिस्ट्रेशन होगा जो बीएस-6 मानकों के हिसाब से बने होंगे। इसके मुताबिक नैनो को अपग्रेड नहीं किया जाएगा। नैनो बीएस-4 नॉर्म पर बनी है।
  2. नैनो को रतन टाटा ने पेश किया था। कंपनी ने इसे दोपहिया वाहन का उपयोग करने वाले लोगों को ध्यान में रखकर बनाया था। भारतीय बाजार में इसे अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला। 2009 में टाटा नैनो एक लाख की शुरुआती कीमत के साथ लॉन्च हुई था।

Happy Republic Day 2019: 26 जनवरी पर अपनों को भेजें ये Best Wishes

happy republic day 2019

जैसा कि आप सबको पता कि हमारे भारत का संविधान 26 जनवरी, 1950 को लागू हुआ था। यही वजह है कि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस बार हम 70वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहे हैं। 26 जनवरी हमारे देश का एक राष्ट्रीय पर्व है। बच्चे हों या बड़े सभी इस राष्ट्रीय पर्व को बड़े हर्षोउल्लास के साथ मनाते हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर लोग पतंगबाजी करते हैं या देशभक्ति से ओतप्रोत फिल्में जैसे बॉर्डर, रंग दे बसंती फिल्में देखकर भारत के वीर बलिदानियों को याद करते हैं। इस बार 25 जनवरी को झांसी की रानी के जीवन पर बनी फिल्म ‘मणिकर्णिका’ 25 जनवरी को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म के गाने जैसे- भारत यह रहना चाहिए.. सुनकर आप अंदाजा लगा सकते है कि यह फिल्म भी लोगों में देशभक्ति की भावना भरने वाली है। 26 जनवरी से कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर देशभक्ति के वीडियो, गाने और शुभकामना संदेश भी लोग एक दूसरे को भेजने लगते हैं। यहां Republic Day 2019 के कुछ चुनिंदा शुभकामना संदेश, Republic Day Images आपके लिए लाए हैं जिन्हें आप अपनों को शेयर कर सकते हैं-

 

गांधी स्वपन जब सत्य बना
देश तभी गणतंत्र बना
जरा याद करों वीरो की कुर्बानी
जिससे देश गणतंत्र बना
Happy Republic Day 2019

happy republic day 2019

 

अलग है भाषा, प्रांत, परिवेश
पर हम सब का एक है गर्व
इस गणतंत्र दिवस पर इसके सामने शीश झुकाएं हम
Happy Republic day 2019

happy republic day 2019

भारतीय होने पर है गर्व, आओ मिलकर मनाएं लोकतंत्र का पर्व
शान से लहराओ तिरंगा, मनाओ लोकतंत्र का पर्व
Happy republic day 2019

 

happy republic day

 

ना जुबान से, ना एसएमएस से,
ना दिमाग से, ना रंगों से,
ना ग्रीटिंग से, ना तोहफे से,
26 जनवरी मुबारक सीधे दिल से
Happy Republic day 2019